आपको इनमे से कौन सी कला आती है🧘🚩Gautam Buddha Story in Hindi | Buddha Story Hindi | Buddhism Story in Hindi

By | March 6, 2022

एक युवा ब्रह्मचारी था वो बहुत ही प्रतिभावान था उसने मन लगाकर शास्त्रों का अध्ययन किया था और प्रसिद्धि पाने के लिए नई-नई कलाएं सीखता रहता था | विभिन्न कलाएं सीखने के लिए वो अनेक देशों की यात्रा भी करता था | एक व्यक्ति को उसने बाण बनाते देखा तो उसने बाण बनाने की कला सीख ली | किसी को मूर्ति बनाते देखा तो उसने मूर्ति बनाने की कला सीख ली | इसी तरह उसने कहीं से एक सुंदर नक्काशी करने की कला को भी सीख लिया |

 

 

 

वह लगभग 15 – 20 देशों में गया और वहां से कुछ ना कुछ सीख कर लौटा |

 

 

 

इस बार जब वो अपने देश लौटा तो वो अभिमान से भरा हुआ था | अहंकार वश वो का मजाक उड़ाते हुए कहता – भला पृथ्वी पर कोई है मुझ जैसा अनोखा कलाकार…!! मेरे जैसा महान कलाकार भला कहां मिलेगा ?

 

 

 

बुद्ध को उस युवा ब्रह्मचारी के बारे में पता चला तो उसका अहंकार तोड़ने के लिए एक वृद्ध ब्राह्मण का रूप धारण करके उसके पास गए और बोले – युवक, मैं अपने आप को जानने की कला जानता हूं क्या तुम्हें यह कला भी आती है?

 

 

 

वृद्ध ब्राह्मण का रूप धरे बुद्ध को युवक नहीं पहचान पाया और बोला – बाबा, क्या अपने आप को जानना भी कोई कला है ?

 

 

 

इस पर बुद्ध बोले – जो बाण बना लेता है, मूर्ति बना लेता है, सुंदर नक्काशी कर लेता है अथवा घर बना लेता है वो तो मात्र कलाकार होता है | ये काम तो कोई भी सीख सकता है |

 

 

 

पर इस जीवन में महान कलाकार वो होता है जो अपने शरीर और मन को नियंत्रित करना सीख लेता है | अब बताओ ये कलायें सीखना ज्यादा बड़ी बात है, या अपने मन को महान बनाना ?

 

 

 

बुद्ध की बातों का अर्थ समझकर युवक का अभिमान चूर चूर हो गया और उसने घमंड करना हमेशा के लिए त्वोयाग दिया | उनके चरणों में गिर पड़ा और उस दिन से भगवान बुद्ध का शिष्य बन गया |

 

 

 

दोस्तों अगर ये विडियो पसंद आती हो तो LIKE ज़रूर करें और अपने विचार हमें कमेंट में ज़रूर बताएं धन्यवाद दोस्तों |

Leave a Reply

Your email address will not be published.