कुछ सच्ची और अच्छी बातें | Kuch sacchi or acchi baaten by Rohit Kumar

By | July 1, 2020
  1. लोग कहते हैं कि जिंदगी में अकेले आप कभी खुश नहीं रह सकते लेकिन यह बात एकदम सच है कि जीवन में अकेलापन ही हमें जिंदगी जीने का सही मतलब सिखाता है |

 

2. कोई संत कहता है कि जब कोई दुखी होता है तो मैं उससे केवल एक ही बात कहता हूं मनुष्य तू क्यों रोता है जो लिखा है वही होता है रास्ते 10 और खुलते हैं जब एक बंद होता है तू इस बात को ऐसे समझ कि क्या जिन पेड़ों पर फल नहीं होते क्या उन पर चिड़ियों का बसेरा नहीं होता है ? हिम्मत हारने से तुझे क्या मिलेगा अरे रात के बाद ही तो सवेरा होता है |

 

3. कभी-कभी कोई गलत इंसान भी जिंदगी का सही मतलब समझा देता है कहने का अर्थ यह है कि जो हमारे साथ रहकर हमें ही छलता है वह इंसान तो बेशक रूप से गलत ही हुआ लेकिन वह जाने अनजाने में हमें जीवन का सही मतलब समझा गया |

 

4. इस संसार में ऐसे बहुत कम लोग हैं जो आपका दुख सुनना पसंद करते हैं क्योंकि अधिकतर लोगों का तो ध्यान केवल कहानियों पर होता है |

 

5. कुछ लोग अपनी जिंदगी उन लोगों के लिए खराब कर देते हैं जिन्हें उनके होने या ना होने से कोई फर्क भी नहीं पड़ता ऐसे लोग बड़ी कमाल के होते हैं ध्यान रखिये कि यदि आज कोई अपने कीमती वक्त में से कुछ वक्त आपको देता है तो हमेशा आपके शुक्रगुजार रहिए क्योंकि आज देना तो कोई नहीं चाहता के लिए हर शख्स तैयार बैठा है |

 

6. जब किसी को खोने की नौबत आ जाती है तभी उसे पाने की असली कीमत समझ आती है |

 

7. नफरत करके आप क्यों बढ़ाते हैं अहमियत किसी की जबकि उसे माफ करके शर्मिंदा करने का मजा ही कुछ और है |

 

8. जीवन में महत्वपूर्ण यह नहीं है कि आपकी उम्र क्या है बल्कि महत्वपूर्ण तो यह है कि आप किस उम्र की सोच रखते हैं |

 

9. किसी ने जिंदगी की सच्चाई को केवल दो ही वाक्यों में बोल दिया है की मुट्ठियों में कैद हैं जो खुशियां उन्हें बांट दो यारों यह हथेलियां तो वैसे भी 1 दिन खुल ही जानी हैं |

 

10. किसी संत ने कहा है कि वक्त की धारा में मैंने अच्छे अच्छों को मजबूर होते देखा है कर सको तो किसी को खुश करो क्योंकि दुख देते हुए तो मैंने हजारों को देखा है |

 

11. कीमत दोनों की चुकानी पड़ती है बोलने की भी और चुप रहने की भी लोग अक्सर नर्म लहजों में इतनी सख्त बात कह जाते हैं कि उनके लफ़्ज़ की तपिश भूलने में एक उम्र लग जाती है |

 

12. मकड़ी के जाले से भी कमजोर हैं इस दुनिया के सहारे |

 

13. समय, सत्ता, संपत्ति और शरीर चाहे साथ दे या ना दे लेकिन स्वभाव समझदारी और नेकियाँ हमेशा साथ देती हैं |

 

14. हथेली पर रखकर नसीब तो क्यों अपना मुकद्दर ढूंढता है सीख समंदर से जो टकराने के लिए पत्थर ढूंढता है |

 

15. बहुत से रिश्ते केवल इसलिए खत्म हो जाते हैं क्योंकि एक सही बोल नहीं पाता और दूसरा सही समझ नहीं पाता |

 

दोस्तों उम्मीद करता हूँ कि आपको ये सारे quotes जरुर पसंद आये होंगे, आपको ये कुछ सच्ची और अच्छी बातें | Kuch sacchi or acchi baaten by Rohit Kumar कैसे लगे हमें कमेंट करके जरुर बताएं | आपका feedback हमारे लिए बेशकीमती है | अगर हमारे लिए आपकी कोई राय है तो आप हमें e-mail भी कर सकते हैं, और ऐसे ही अनमोल विचार, सुविचार या मोटिवेशनल कहानियों के लिए आप हमारे ब्लॉग और YouTube चैनल को भी सब्सक्राइब कर सकते हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *