मजाक नहीं है दोस्त, सच है…. तब कहीं जाके औलाद पलती है

By | June 12, 2021

1. हर इंसान के अंदर एक रावण होना चाहिए जो अपनी बहन के लिए भगवान से भी लड़ जाए |

 

 

2. ध्यान रखें अक्सर हमारी अफ़वाह के धुएँ वहीं से उठते हैं जहाँ हमारे नाम से आग लग जाती हो |

 

 

3. पैसा आपकी हैसियत जरूर बदल सकता है मगर औकात नहीं |

 

 

4. जब कल का दिन देखा ही नहीं तो आज का दिन खोएँ क्यों जिस घड़ी में हंस सकते हैं उस घडी में कल के लिए रोएँ क्यों चलिए थोड़ी मुस्कुराहट बांटते हैं थोड़ा तकलीफों को डांटते हैं क्या पता ये साँसें चोर कब तक हैं क्या पता जिंदगी की चरखी में डोर कब तक है |

 

 

5. चेहरे पर उदासी ना ओढ़ीये साहब वक्त तकलीफ का जरूर हो सकता है मगर कटेगा मुस्कुराने से ही |

 

 

6. प्रभु का रास्ता बड़ा सीधा है और बड़ा उलझा भी बुद्धि से चलो तो बहुत उलझा, भक्ति से चलो तो बड़ा सीधा, विचार से चलो तो बहुत दूर, भाव से चलो तो बहुत पास, नजरों से देखो तो कण कण में और अंतर्मन से देखो तो जन-जन में |

 

 

7. अगर कोई आपसे नाराज है और उसे इस बात का गुरूर है कि आप उसे मना लेंगे तो उसका गुरुर कभी टूटने मत दीजिएगा |

 

 

8. अगर आप किसी को दिल से चाहो और वो आपकी कदर ना करे तो यह उसकी बदनसीबी है आपकी नहीं |

 

 

9. आप होशियार हैं यह अच्छी बात है पर किसी को मूर्ख ना समझे यह और भी अच्छी बात है |

 

 

10. चित्र ही नहीं चरित्र भी सुंदर रखिए, भवन ही नहीं भावना भी सुंदर रखिए, साधन ही नहीं साधना भी सुंदर रखिए, द्रष्टि ही नहीं दृष्टिकोण भी सुंदर रखिए |

 

 

11. एकता जब मिट्टी ने की तो ईट बन गई जब ईट ने की तो दीवार बन गई, दीवार ने की तो घर बन गया, ये तो फिर भी बेजान वस्तुयें थी और जब ये एक हो सकती हैं तो हम तो भला इंसान हैं |

 

 

12. कई बार इंसान जुबान के कड़वे होते हैं मगर दिल के नहीं, कई बार फिक्र जुबान में होती है दिल में नहीं और कई बार गुस्सा जुबान में होता है दिल में नहीं |

 

 

13. दो चीजों को कभी व्यर्थ मत जाने दीजिए अन्न के कण को और आनंद के क्षण को |

 

 

14. हमेशा प्रेम की भाषा बोलिए क्योंकि इसे बहरे भी सुन सकते हैं और गूंगे भी बोल सकते हैं |

 

 

15. ईश्वर हर रूप में तुम्हारी मदद करने आता है लेकिन हां उनको ढूँढना मत सिर्फ पहचानना |

 

 

16. खाली बोतलें लेने वालों ने बंगले बना लिए मगर बोतलें खाली करने वालों ने बंगले, ज़मीन गाड़ी सब कुछ भेज डाला |

 

 

17. बुरे समय में दिलासा देने वाला अजनबी ही क्यों ना हो दिल में उतर जाता है और बुरे समय में किनारा करने वाला अपना ही क्यों ना हो दिल से उतर जाता है |

 

 

18. मजाक नहीं है दोस्त सच है कि धूप में बाप और चूल्हे पर माँ जलती है तब कहीं जाके औलाद पलती है |

 

 

19 जितना दुनिया में QUALIFICATION बढ़ रहा है उतना इतना रिश्तो में कॉम्प्लिकेशन बढ़ रहा है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *