कुछ सच्ची बातें – Kuch Sacchi Baaten by Rohit Kumar

By | July 8, 2019

कुछ सच्ची बातें – Kuch Sacchi Baaten by Rohit Kumar

 

1. वक़्त के साथ चलना कोई ज़रूरी नहीं केवल सच के साथ चलिए एक दिन वक़्त आपके साथ चलेगा |

2. कभी भी किसी से इतनी दुश्मनी ना कीजिये कि जब दोस्ती हो तो आपको शर्मिंदा होना पड़े |

3. रोटी कैसे कमानी है सिर्फ ये नहीं, रोटी का हर निवाला मीठा कैसे बनाना है ये सीख जाईये तो धरती पे ही स्वर्ग है |

4. जीवन एक तरबूज़ है मीठा हो या ना हो लेकिन काटने को सब तैयार बैठे हैं |

5. नसीहत वो सत्य है जिसे कोई गौर से नहीं सुनता और तारीफ़ वह धोखा है जिसे सब पूरे ध्यान से सुनते हैं |

6. कोई अगर आहार में विष घोल दे तो उसका उपचार संभव है लेकिन अगर कोई विचार में ही विष घोल दे तो उसका उपचार असंभव है |

7. दूसरों की प्रसन्नता देख कर अगर आप भी प्रसन्न होते हैं तो समझ लीजियेगा कि ईश्वर ने आपको इंसान बनाके कोई गलती नहीं की |

8. हमें कुछ सहन करना भी सीखना चाहिए क्योंकि हममे भी ऐसी बहुत सी कमियाँ हैं जिन्हें दूसरे सहन करते हैं |

9. असली इबादत वह है जिसमे ज़रूरतों का ज़िक्र एक भी ना हो सिर्फ उसकी रहमतों का शुक्र हो |

10. हवा की तरह होती हैं मुसीबतें आप कितनी भी खिड़कियाँ बंद कर लीजिये वो अन्दर आ ही जाती हैं |

11. अनंत इक्छाओं का उपलब्ध साधनों में ही तालमेल होना जीवन की असली सफलता है |

12. झुकने का अर्थ यह कदापि नहीं होता कि आपने सम्मान खो दिया | हर कीमती वस्तु को उठाने के लिए झुकना ही पड़ता है प्रभु और वुजुर्गों का आशीर्वाद भी इनमे से एक है |

13. प्रकृति के कालचक्र का नियम भी कितना अजीब है कि बचपन में समय है, शक्ति है लेकिन पैसा नहीं है | युवावस्था में शक्ति है, पैसा है लेकिन समय नहीं है और बुढ़ापा में पैसा भी है, समय भी है लेकिन शक्ति नहीं है |

प्रकृति का कोई जवाब ही नहीं इसलिए प्रतिदिन हर्ष, उल्लास और ख़ुशी में जीवन बिताइए |

14. बहुत सौदे होते हैं इस संसार में मगर सुख बेचने वाले और दुःख खरीदने वाले एक भी नहीं मिलते लोग अपने रिश्ते तो छोड़ देंगे मगर अपनी ज़िद नहीं |

15. जब कोई अपनी समस्या आपके सामने रखता है तब वह आपपर ईश्वर के जैसा पूर्ण विश्वास रखता है तो कोशिश कीजिये कि उसका विश्वास बना रहे |

16. जो इंसान जितना खामोश रखता है वो इन्सान अपनी इज्जत को उतना ही महफूज़ रखता है |

17. चाबी से खुला ताला बार-बार काम में आता है लेकिन हथौड़े से खुलने पर वो दुबारा काम का नहीं रहता | ठीक इसी तरह संबंधों के ताले को क्रोध के हथौड़े से नहीं बल्कि प्रेम की चाबी से खोलें |

18. अर्जुन ने श्री कृष्ण से पूछा कि ज़हर क्या है..?

कृष्ण जी ने बहुत ही सुन्दर जवाब दिया कि हर वो चीज़ जो जिंदगी में आवश्यकता से अधिक होती है वही ज़हर है फिर वो चाहे ताक़त हो, धन हो, भूख हो, लालच हो, अभिमान हो, आलस हो, प्रेम हो या घृणा ज़हर ही होती है |

19. हमेशा अपनी छोटी-छोटी गलतियों से बचने की कोशिश कीजिये क्योंकि इंसान कभी पहाड़ों से नहीं छोटे-छोटे पत्थरों से ही ठोकर खाता है |
20. वक़्त नहीं बदलता इंसान बदल जाते हैं बंद आँखों से तो अँधेरे ही नज़र आते हैं | हर तजुर्बा होता है खेल अपनी नज़रों का क्योंकि रेल की खिड़की से देखो तो पेड़ भी दौड़ते नज़र आते हैं |

21. भरोसा तोड़ने वालों के लिए बस एक ही सजा काफ़ी है कि उनको जिंदगी भर के लिए ख़ामोशी तोहफ़े में दे दी जाए |

22. किसी ने पूछा म्रत्यु और मोक्ष में क्या अंतर है..? बहुत ही सुन्दर जवाब मिला कि साँसें पूरी हो जाएँ और तम्मनायें बाकी रहें तो वह म्रत्यु है और साँसे बाकी रहें लेकिन तम्मनायें पूरी हो जाएँ तो वह मोक्ष है |

23. सच्चे लोगों पर भी उतना ही विश्वास रखिये जितना कि आप दवाइयों पर रखते हैं बेशक वो थोड़े कडवे तो होंगे लेकिन आपके लिए फायदेमंद ही होंगे |

24. स्त्री पारस की तरह होती है वो प्रेम नहीं करती बल्कि प्रेम में बस्ती है और वो जिस रिश्ते को छूती है उसे प्रेम से भर देती है |

दोस्तों उम्मीद करता हूँ कि आपको ये सारे quotes जरुर पसंद आये होंगे, आपको ये कुछ सच्ची बातें – Kuch Sacchi Baaten by Rohit Kumar कैसे लगे हमें कमेंट करके जरुर बताएं | आपका feedback हमारे लिए बेशकीमती है | अगर हमारे लिए आपकी कोई राय है तो आप हमें e-mail भी कर सकते हैं, और ऐसे ही अनमोल विचार, सुविचार या मोटिवेशनल कहानियों के लिए आप हमारे ब्लॉग और YouTube चैनल को भी सब्सक्राइब कर सकते हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *