कुछ सच्ची और अच्छी बातें | Kuch Sacchi or acchi baaten by Rohit Kumar

1. बहुत ही खूबसूरत बात है कि मिट्टी का गीलापन जिस तरह से पेड़ की जड़ को पकड़कर रखता है ठीक उसी तरह शब्दों का मीठापन मनुष्य के रिश्तों को पकड़कर रखता है |     2. और किसी ने क्या खूब कहा है कि दुनिया की परवाह यहां कौन करता है जब लफ़्ज़ ठीक… Read More »

कुछ सच्ची और अच्छी बातें | Kuch Sacchi or acchi baaten by Rohit Kumar

1. बहुत ही खूबसूरत पंक्तियां हैं जरा ध्यान से सुनिएगा कि चूहा अगर पत्थर का हो तो उसे सब पूजते हैं मगर जिंदा हो तो उसे मारे बिना चैन नहीं लेते, सांप अगर पत्थर का हो तो उसे सब पूजते हैं मगर जिंदा हो तो उसी वक्त मार देते हैं, मां-बाप अगर तस्वीरों में हो… Read More »

कुछ सच्ची और अच्छी बातें | Kuch Sacchi or acchi baaten by Rohit Kumar

1. एक खूबसूरत बात कि ये उम्र बढ़ने की जगह घट जाती तो क्या बात थी, जिंदगी माँ की गोद में ही कट जाती तो क्या बात थी |     2. मेहंदी लगे हाथ महबूब के ही नहीं माँ के भी अच्छे लगते हैं |     3. और एक शानदार बात कि गम… Read More »

कुछ सच्ची और अच्छी बातें | Kuch Sacchi or acchi baaten by Rohit Kumar

1. किसी ने क्या खूब कहा है कि अपनी मुश्किलों से मैं तो हारने से रहा भले ही शेर भूखा हो मगर वो तो घास खाने से रहा |     2. और एक शानदार बात कि मुकम्मल फासला जरूर रखिए जनाब रिश्ता कोई भी हो अरे ये नज़दीकियां ही तो जी का जंजाल बनती… Read More »

कुछ सच्ची और अच्छी बातें | Kuch Sacchi or acchi baaten by Rohit Kumar

1. किसी ने क्या खूब कहा है कि मुस्कुराने की आदत डालिए जनाब यूँ उदासियों को अपने मुँह ना लगाइए |     2. और क्या शानदार बात है कि जिस मुकाम को मुकम्मल करने के लिए आपको मशक्कत ही ना करना पड़े उस मुकाम की बला अहमियत ही क्या होगी |     3.… Read More »